West Bengal: Kangaroo Court has given inhuman decision to burn the person alive.

पश्चिम बंगाल: कंगारू कोर्ट ने दिया व्यक्ति को जिंदा जलाने का अमानवीय फैसला।

रिपोर्ट फराह अंसारी
मालदा: पश्चिम बंगाल से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। मालदा में कंगारू कोर्ट ने एक व्यक्ति को जिंदा जलाने का फरमान दे दिया। यह फैसला स्थानीय जमीन विवाद के एक मामले में दिया गया था। फैसले पर अमल करने के लिए वहां के लोगों ने 29 वर्षीय व्यक्ति मंडल हंसदा को बांधकर उसके शरीर में आग लगा दी।




मंडल के परिवारवालों ने सही समय पर उन्हें आग की लपटों से बचा लिया, नहीं तो उनकी जान चली जाती। घर के लोग उन्हें आनन-फानन में अस्पताल ले गए। वहां उनका उपचार चल रहा है, लेकिन उनकी हालत गंभीर बताई जा रही है। मामले में पुलिस ने 3 लोगों को गिरफ्तार किया है।

कंगारू कोर्ट के व्यक्ति को जिंदा जला देने का फैसला सुनाए जाने से लोग अचंभित हैं। मामला बुधवार देर रात का है। मामले पर जानकारी देते हुए हबीबपुर ब्लॉक विकास अधिकारी शुभजीत जन ने बताया कि स्थानीय समुदाय के प्रमुख और तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है, जिन्होंने कंगारू अदालत लगाई थी।



कंगारू अदालत ने व्यक्ति को भूमि विवाद मामले में दोषी करार दिया था। इसके बाद समुदाय के प्रमुख ने कुछ लोगों को उसके हाथ तथा पैर बांधने उसपर मिट्टी का तेल डालने और आग लगाने का आदेश दिया।

ब्लॉक अधिकारी शुभजीत ने बताया कि उसके परिवार वालों ने आग बुझाई और उसे अस्तपाल में भर्ती कराया गया। उन्होंने शिकायत भी दर्ज कराई जिसके बाद इन लोगों की गिरफ्तारी की गई। मामले में आगे की कार्रवाई जारी है।

Facebook Comments

मामले (भारत)

67152

मरीज ठीक हुए

20917

मौतें

2206

मामले (दुनिया)

3,917,999