यूपी: जुलाई से अब तक बारिश ने ली सैकड़ो की जान, कई हुए बे घर।

यूपी: जुलाई से अब तक बारिश ने ली सैकड़ो की जान, कई हुए बे घर।

रिपोर्ट: फराह अंसारी
यूपी/लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बारिश की स्थिति लगातार बनी हुई है। राहत आयुक्त संजय कुमार के मुताबिक एक जुलाई से अभी तक वर्षा जनित हादसों में मरने वालों की संख्या 148 पहुंच गयी है। उन्होंने बताया कि इस एक माह के दौरान 122 लोग घायल हुए हैं जबकि 177 पशुओं की मौत हुई है। इस दौरान 1185 मकानों को नुकसान पहुंचा।



इस बीच मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेश में भारी बारिश के कारण उपजे हालात से आम लोगों को राहत दिलाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने पिछले करीब पांच दिनों से प्रदेश में हो रही बारिश के चलते जगह-जगह उत्पन्न हुई बाढ़ की स्थिति और उससे निपटने की तैयारियों की समीक्षा करते हुए कहा कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लोगों को तत्काल राहत उपलब्ध कराते हुए बचाव कार्य किए जाएं। कच्चे घरों में रहने वाले लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जाए और पर्याप्त मात्रा में खाद्यान्न मुहैया कराते हुए उनके लिए पेयजल की भी व्यवस्था की जाए।

मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण-पश्चिम मानसून पूरे राज्य में सक्रिय है। प्रदेश के अधिकांश भागों में बारिश होने का अनुमान है। प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले 24 घंटे में नानपारा बहराइच और बहेडी में 15 सेमी वर्षा, जबकि हैदरगढ। बाराबंकी और सफीपुर और निघासन में 11-11 सेमी वर्षा दर्ज की गयी है। वहीं लखनऊ, उन्नाव और कन्नौज में नौ-नौ सेमी, बरेली में आठ सेमी और फतेहगढ.,फतेहपुर, भटपुरवाघाट तथा मथुरा में सात-सात सेमी वर्षा दर्ज की गयी।




शासन से प्राप्त जानकारी के अनुसार गंगा नदी का कानपुर देहात, कानपुर, रायबरेली, गढ.मुक्तेश्वर, मिर्जापुर, फाफामऊ, गाजीपुर और बलिया में तेजी से जलस्तर बढ रहा है, जबकि यमुना नदी मथुरा में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है वहीं आगरा और इटावा में तेजी से बढ रही है। गोमती नदी सुल्तानपुर में तेजी से बढ रही है जबकि राप्ती नदी बहराइच, श्रावस्ती और बलरामपुर में तेजी से बढ रही है।

Facebook Comments

मामले (भारत)

67152

मरीज ठीक हुए

20917

मौतें

2206

मामले (दुनिया)

3,917,999