Pakistan: The government of Pakistan, struggling with money crunch, has auctioned eight buffaloes.

पाक़िस्तान: पैसे की कमी से जूझ रही पाकिस्तान की सरकार ने आठ भैंसों की नीलामी।

रिपोर्ट फराह अंसारी
इस्लामाबाद: पैसे की कमी से जूझ रही पाकिस्तान की सरकार ने आठ भैंसों की नीलामी कर गुरुवार को 23 लाख रुपये जुटा लिये। पाकिस्तान के नये प्रधानमंत्री इमरान खान ने पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ द्वारा सेहत संबंधी दिक्कतों के लिए प्रधानमंत्री आवास में रखी आठ भैंसों की नीलामी फिजूलखर्ची रोकने के अभियान के तहत की है। इससे पहले पिछले सप्ताह 61 लग्जरी कारें बेचकर पाकिस्तान सरकार ने करीब 20 करोड़ रुपये जुटाये थे।



सरकार की योजना बुलेटप्रूफ कारों समेत 102 कारें और मंत्रिमंडल के इस्तेमाल के चार हेलिकॉप्टर बेचने की है। पाकिस्तान के अखबार ‘डॉन’ की खबर के अनुसार, प्रधानमंत्री आवास की तीन भैंसों और पांच बछड़ों की इस्लामाबाद में हुई नीलामी से कुल 23,02,000 पाकिस्तानी रुपये मिले हैं। इन भैंसों और बछड़ों को नवाज शरीफ के समर्थकों ने खरीदा है।

शरीफ के एक समर्थक काल्ब अली ने इनमें से एक भैंस 3,85,000 रुपये में खरीदी। अली ने कहा कि उन्होंने इस भैंस से भावनात्मक जुड़ाव के कारण उसकी नीलामी की कीमत 1,20,000 रुपये से तीन गुना बोली लगायी। अली ने कहा, ‘‘मैंने इस भैंस को नवाज शरीफ के प्रति अपने लगाव के कारण खरीदा है। मैं इसे नवाज शरीफ और बहन मरियम शरीफ के प्रतीक के तौर पर रखूंगा।’’

पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज के कार्यकर्ता फखर वराइच ने चार बछड़ों में से दो को क्रमश: 2,15,000 रुपये और 2,70,00 रुपये में खरीदा. एक अन्य आदमी ने तीसरा बछड़ा 1,82,000 रुपये में खरीदा।

नए प्रधानमंत्री इमरान खान की किफायत बरतने की मुहिम के तहत प्रधानमंत्री आवास की 102 लग्जरी कारों में से 70 कारों को बीते 17 सितंबर को नीलाम किया गया था। इस नीलामी से देश की सरकार को 7,39,11,000.00 पाकिस्तानी रुपए हासिल हुए।




मीडिया की रिपोर्ट्स के मुताबिक इन कारों के लिए बाजार से ऊंचे दाम मिले जिसके बाद प्रधानमंत्री आवास की आठ भैंसों को बेचा गया है। पाकिस्तान सरकार पर कर्ज और देनदारियों का भारी बोझ है। प्रधानमंत्री के विशेष सहायक नईम-उल-हक ने कहा कि सरकार मंत्रिमंडल के उपयोग के लिए रखे गए चार हेलीकॉप्टर भी नीलाम करेगी। इनका इस्तेमाल नहीं हो रहा है। पाकिस्तान का कुल कर्ज बढ़कर पिछले वित्त वर्ष के अंत तक करीब 30 हजार अरब रुपये पर पहुंच गया है। यह पाकिस्तान के सकल घरेलू उत्पाद का 87 प्रतिशत है।

Facebook Comments

मामले (भारत)

67152

मरीज ठीक हुए

20917

मौतें

2206

मामले (दुनिया)

3,917,999