New Delhi: Transport Minister Kailash Gehlot is accused of tax evasion of 100 crores.

नई दिल्ली: परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत पर 100 करोड़ की टैक्स चोरी का आरोप।

रिपोर्ट फराह अंसारी
नई दिल्ली: दिल्ली की केजरीवाल सरकार में परिवहन मंत्री और आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता कैलाश गहलोत की आने वाले दिनों में मुश्किलें और बढ़ सकती है। आयकर विभाग के छापे में गहलोत और उनके सहयोगियों के पास से लाखों की संपत्ति जब्त हुई है। छापे के दौरान 100 करोड़ रुपये से ज्यादा टैक्स चोरी के मामले का पता चला है। आयकर विभाग के सूत्रों के मुताबिक, जांच में ब्लैंक साइन शेयर फॉर्म मिले हैं। साथ ही अनेक बेनामी प्रोपर्टियों का भी पता चला है. ये प्रापर्टियां कंपनी के वर्करों के नाम भी हो सकती है।




आयकर विभाग ने करीब सवा 2 करोड़ रुपये से ज्यादा रकम के जेवरात बरामद किये।कैलाश गहलोत पर आरोप है कि उन्होंने शैल कंपनियों के जरिए भी पैसा और प्रापर्टी खरीदी।आयकर विभाग की जांच के बाद ईडी और सीबीआई भी मुकदमा दर्ज कर सकती है।

आयकर विभाग ने दिल्ली कैबिनेट मंत्री कैलाश गहलोत और उनके परिवार के सदस्यों के दिल्ली और गुरुग्राम स्थित 16 आवासों और अन्य ठिकानों पर बुधवार को छापेमारी की थी। गहलोत दिल्ली सरकार में परिवहन, कानून, राजस्व, सूचना प्रौद्योगिकी व प्रशासनिक सुधार विभाग संभालते हैं।

आयकर विभाग द्वारा संपत्ति का पता चलने के बाद आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता कपिल मिश्रा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर निशाना साथ है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ”केजरीवाल के मंत्री कैलाश गहलोत के यहां IT को क्या मिला? 175 से ज्यादा प्रॉपर्टी विल के दस्तावेज मिले। एक प्रॉपर्टी ड्राइवर के नाम. सवा 2 करोड़ के ज़ेवरात ज़ब्त। 100 करोड़ की टैक्स चोरी।”

वहीं बीजेपी ने ट्वीट कर कहा, ”अपने यही कारनामे छुपाने के लिए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उनकी पार्टी के नेता रेड का विरोध कर रहे थे। केजरीवाल जी का ईमानदारी वाला मुखौटा उतर गया है और असली चेहरा सबको दिख रहा है।”



गहलोत के खिलाफ कार्रवाई शुरू होने के बाद दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा था, “नीरव मोदी, माल्या से दोस्ती और हम पर रेड? मोदी जी, आपने मुझपे, सत्येंद्र पर और मनीष पर भी तो रेड करवाई थीं? उनका क्या हुआ? कुछ मिला? नहीं मिला? तो अगली रेड करने से पहले दिल्ली वालों से उनकी चुनी सरकार को निरंतर परेशान करने के लिए माफी तो मांग लीजिए?।”

Facebook Comments

मामले (भारत)

67152

मरीज ठीक हुए

20917

मौतें

2206

मामले (दुनिया)

3,917,999