New Delhi: Ram temple is not a patent of BJP, Azam and Owaisi should also come forward for help: Uma Bharti

नई दिल्ली: राम मंदिर बीजेपी का पेटेंट नहीं है, आजम और ओवैसी भी मदद के लिए आगे आएं: उमा भारती।

रिपोर्ट फराह अंसारी
नई दिल्ली:
चुनावी समर में राम मंदिर का मुद्दा एक बार फिर सुर्खियों में है। हिंदूवादी संगठन लगातार इसे हवा देने की कोशिश में है। इस बीच राम मंदिर की पैरोकार रही केंद्रीय मंत्री और बीजेपी की वरिष्ठ नेता उमा भारती ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे का समर्थन करते हुए कहा है कि समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी को भी साथ आना चाहिए। उमा भारती ने कहा, ”हां, मैं उद्धव ठाकरे के प्रयास के लिए उनकी सराहना करती हूं। राम मंदिर का मुद्दा बीजेपी का पेटेंट नहीं है। भगवान राम सभी के हैं। मैं एसपी, बीएसपी, अकाली दल, ओवैसी और आजम खान से अपील करती हूं कि वे राम मंदिर के निर्माण में मदद के लिए आगे आएं।”




शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे राम मंदिर की मांग को हवा देने के लिए 24 नवंबर को अयोध्या पहुंचे थे और वह कल शाम को मुंबई लौटे। अयोध्या दौरे के दौरान ठाकरे के निशाने पर बीजेपी थी। उन्होंने कल रामलला के दर्शन के बाद बीजेपी का नाम लिए बगैर कहा, “मामला अदालत के पास है, फैसला अदालत को ही करना है तो चुनाव प्रचार के दौरान उसका इस्तेमाल न करें और बता दें कि भाइयों और बहनों, हमें माफ करो, यह भी एक चुनावी जुमला था।”




उद्धव ने कहा कि अगर ये सरकार मंदिर नहीं बनाएगी तो शायद ये सरकार नहीं बनेगी लेकिन मंदिर जरूर बनेगा। उन्होंने आगे कहा, “मैंने सुना कि मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि मंदिर था, है और रहेगा, यह ही तो हमारी धारणा और भावना है। पर दुख इस बात का है कि राम मंदिर दिख नहीं रहा है। मंदिर दिखेगा कब? जल्द से जल्द निर्माण होना चाहिए।”

Facebook Comments

मामले (भारत)

67152

मरीज ठीक हुए

20917

मौतें

2206

मामले (दुनिया)

3,917,999