नई दिल्ली: पीएम मोदी ने नेहरू को किया याद, भारत के पहले प्रधानमंत्री को दी श्रद्धांजलि।

New Delhi: PM Modi remembers Nehru, paid tribute to India's first Prime Minister

रिपोर्ट फराह अंसारी
नई दिल्ली: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी ने बुधवार को भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू को उनकी 129वीं जयंती पर श्रद्धांजलि दी। राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद, कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत, वरिष्ठ नेता पी सी चाको और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने भी नेहरू जी को श्रद्धांजलि दी। भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, केंद्रीय मंत्री विजय गोयल और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा ने भी पंडित नेहरू को श्रद्धांजलि दी। नेहरू के समाधि स्थल शांतिवन में तिरंगे गुब्बारे छोड़े गए और स्कूल के बच्चों ने देशभक्तिपूर्ण गीत गाये। राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद, कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत, वरिष्ठ नेता पी सी चाको और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने भी नेहरू जी को श्रद्धांजलि दी।




भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, केंद्रीय मंत्री विजय गोयल और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा ने भी पंडित नेहरू को श्रद्धांजलि दी। नेहरू के समाधि स्थल शांतिवन में तिरंगे गुब्बारे छोड़े गए और स्कूल के बच्चों ने देशभक्तिपूर्ण गीत गाये.राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद, कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत, वरिष्ठ नेता पी सी चाको और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने भी नेहरू जी को श्रद्धांजलि दी। भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, केंद्रीय मंत्री विजय गोयल और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा ने भी पंडित नेहरू को श्रद्धांजलि दी। नेहरू के समाधि स्थल शांतिवन में तिरंगे गुब्बारे छोड़े गए और स्कूल के बच्चों ने देशभक्तिपूर्ण गीत गाये।

नेहरू का जन्म 14 नवंबर 1889 को उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद में हुआ था। मोतीलाल नेहरू और स्वरूप रानी के पुत्र नेहरू आजाद भारत के पहले प्रधानमंत्री थे और इस पद पर वह 1964 में अपने निधन तक रहे। बता दें कि नेहरू का जन्मदिन बाल दिवस के तौर पर मनाया जाता है।

राष्ट्रपति कोविंद के आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर डाले गए एक पोस्ट में कहा गया है ‘‘हमारे पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू का उनकी जयंती पर स्मरण।”

मोदी ने भारत के स्वाधीनता संघर्ष में नेहरू के योगदान को याद किया। उन्होंने ट्वीट किया ‘‘देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू का उनकी जयंती पर स्मरण करता हूं। हम देश के स्वाधीनता संघर्ष में तथा प्रधानमंत्री के तौर पर उनके कार्यकाल में उनके योगदान को याद करते हैं।’’

लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन की अगुवाई में संसद सदस्यों ने भी संसद भवन के सेंट्रल हाल में प्रथम प्रधानमंत्री को श्रद्धासुमन अर्पित किए।

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी, पूर्व उप राष्ट्रपति हामिद अंसारी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने भी नेहरू की जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। मुखर्जी, अंसारी, सिंह और सोनिया सुबह नेहरू के समाधि स्थल शांति वन पहुंचे और पहले प्रधानमंत्री को श्रद्धा-सुमन अर्पित किए।



राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद, कांग्रेस महासचिव अशोक गहलोत, वरिष्ठ नेता पी सी चाको और दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय माकन ने भी नेहरू जी को श्रद्धांजलि दी। भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, लोकसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे, केंद्रीय मंत्री विजय गोयल और हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा ने भी पंडित नेहरू को श्रद्धांजलि दी। नेहरू के समाधि स्थल शांतिवन में तिरंगे गुब्बारे छोड़े गए और स्कूल के बच्चों ने देशभक्तिपूर्ण गीत गाये।

Facebook Comments