नई दिल्ली: दिवाली के एक दिन पहले अगवा व्यापारी को छुड़ाया, 2 अरेस्ट।

New Delhi: One day before Diwali, rescued the abuser, 2 Arrest

रिपोर्ट फराह अंसारी
दिल्ली पुलिस ने दीपावली के दिन एक अगवा व्यापारी को सही सलामत घरवालों से मिला कर उस परिवार की दीपावली सूनी होने से बचा लिया। दरअसल 200 करोड़ के लोन दिलाने के नाम पर दिल्ली में दो शातिर बदमाशों ने एक व्यापारी को अगवा कर लिया और परिवार वालों से 26 लाख की फिरौती भी वसूल ली। लेकिन इसके पहले की वे वसूली गई रकम का इस्तेमाल कर पाते पुलिस ने उन्हें धर दबोचा।



6 नवम्बर को दिन दिल्ली की पश्चिम विहार पुलिस थाने में शिकायत मिली कि रंजन नाम के एक शख्स का अपहरण कर लिया गया है और छोड़ने के बदले बड़ी रकम की मांग की जा रही है। घरवाले 26 लाख रुपये देने को राजी हो गए। इस बीच पुलिस ने आरोपियों की तलाश तेज कर दी। पुलिस ने हर उस नंबर की डीटेल निकाल ली, जिस किसी भी नंबर से आरोपी घरवालों को फोन करते थे। इसके बाद टेक्निकल सर्विलांस के जरिए पुलिस आरोपियों के अड्डे तक पहुंच गई और व्यापारी रंजन को उनके कब्जे से छुड़ा लिया।

पुलिस ने आरोपियों के पास से फिरौती के तौर पर वसूली गई 26 लाख रुपये की रकम भी बरामद कर ली। आरोपियों की पहचान अजीम खान और कामरान खान के रूप में हुई है। आरोपियों ने पुलिस को बताया कि पीड़ित के साथ उनकी पहली मुलाकात दरियागंज के कॉफी शॉप में हुई थी। दोनों ने खुद को बड़ा फाइनेंसर कह कर अपना परिचय दिया। जिसके बाद रंजन, अजीम खान और कामरान की बातों में आ गया। इसके बाद मुंबई के एक प्रोजेक्ट के लिए 200 करोड़ लोन दिलाने की बात तय हुई। लेकिन जब व्यापारी आरोपियों की बुलाई जगह पहुंचा तो दोनो ने उसे बंधक बना लिया और घरवालों से फिरौती मांगने लगे, नहीं तो जान से मारने की धमकी देने लगे।




इनकी धमकी के बाद घरवाले पुलिस के पास पहुंचे। पुलिस का कहना है कि आरोपियों का पुराना आपराधिक रिकॉर्ड अब तक नहीं मिला है, पूछताछ में दोनों ने बताया कि उनका धंधा मंदा चल रहा था इसलिए दोनों ने इस तरह से रुपये कमाने की साजिश रची थी।

Facebook Comments