नई दिल्ली: नन से रेप के आरोपी बिशप ने छोड़ा पद।

New Delhi: Bishop accused of raping a nun

रिपोर्ट फराह अंसारी
केरल की नन के साथ रेप मामले में मिशनरीज ऑफ जीसस संस्था से क्लीन चीट मिलने के एक दिन बाद जालंधर के बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने अपने पद से अस्थायी रूप से इस्तीफा दे दिया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मुलक्कल ने अपने उत्तराधिकारी के रूप में दो लोगों को नियुक्त किया है और विश्वास जताया है कि वह इस पूरे मामले में पाक साफ होकर निकलेंगे।



जालंधर के बिशप फ्रैंको मुलक्कल ने कहा कि मुझे केरल में जांच अधिकारी द्वारा आगे स्पष्टीकरण के लिए बुलाया जाने की संभावना है। वहीं यह पूरा मामला वेटिकन पहुंच गया है। भारत से चर्च का एक प्रतिनिधि वेटिकन में है और उम्मीद की जा रही है कि आने वाले दिनों में वह इस मामले में हस्तक्षेप कर सकता है।

इस पूरे मामले में पीड़िता की तस्वीर जारी करने को लेकर मिशनरीज ऑफ जीसस के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। कैथोलिक पादरी फॉदर ऑगस्टीन ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के कानूनों के उल्लंघन करते हुए मिशनरीज ऑफ जीसस ने शिकायतकर्ता की तस्वीर जारी कर दी। यह धारा 228 ए का उल्लंघन है। उन्होंने कहा कि हम समझते हैं कि मिशनरीज ऑफ जीसस के काउंसलर ने ऐसा किया है। अब तक इस मामले में कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है।




वहीं पीड़िता के भाई ने कहा कि मिशनरीज ऑफ जीसस ने शुक्रवार को मेरी बहन की फोटो और लेटर को जारी किया गया। मैं इसकी निंदा करता हूं। यह बेहद शर्मनाक है। वे हमारी बहन को प्रताड़ित करना चाहते हैं।

Facebook Comments