माहवारी की अनियमिता सही समय पर पीरियड्स न होना।

फराह अंसारी

महावारी लाने के उपाय और घरेलू नुस्खे
महावारी लाने के उपाय और घरेलू नुस्खे

मासिक धर्म महिलाओं में होने वाली एक सामान्य और स्वाभाविक प्रक्रिया होती है। अगर मासिक धर्म में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी या अनियमितता होती है। तो महिलाओं में महिलाओं में और दूसरे रोग उत्पन्न हो जाते हैं।

इसके होने की एक वजह यह भी होती है। अगर किसी के शरीर के भीतरी हिस्से में भी उनको किसी प्रकार का रोग हो। तो इस वजह से भी महिलाओं में माहवारी में अनियमितता हो सकती है। अगर महिलाओं में मासिक धर्म सुचारु रुप से नहीं चलता तो उससे इनके उनके मातृत्व जीवन पर असर पढता है। और वे माँ बनने के सुख से वंचित रह जाती हैं।

मासिक धर्म के रुक जाने का एक प्रमुख कारण यही देखा गया है। इसके अलावा शरीर में खून की कमी होना या मैथुन दोष होना या फिर कभी कभी कुछ महिलाएं या युवतियां महावारी के समय ज्यादा ठंडी चीजों का सेवन कर लेती हैं। या फिर ठंड लग जाती है। इसकी वजह से भी मासिक धर्म रुक सकता है। और पानी में काफी देर तक भीगना भी इसका एक कारण हो सकता है।

इसके अलावा कुछ और कारण भी हैं। जैसे कि बहुत ज्यादा पैदल चलना मन में किसी प्रकार की दुखद भावना रखना या मानसिक क्लेश होना, शोकाकुल होना या अत्यधिक क्रोधित होना इन सब की वजह भी मासिक धर्म रुकने का कारण बन सकती है।

कभी-कभी युक्तियों में उनके कानों में तरह-तरह की आवाज सुनाई पड़ने लगती हैं। उनको दस्त भी हो जाते हैं। रात को ठीक तरह से नींद नहीं आती। और पेट दर्द बना रहता है और शरीर में जगह जगह सूजन जैसी आ जाती है काफी मानसिक तनाव बढ़ जाता है और हाथ पैर टूटने लगते हैं। विशेषकर कमर में दर्द रहता है। गले में खराश और आपका पूरा शरीर बेहद थका हुआ महसूस होने लगता है। और प्रसूता स्त्रियों में दूध बिल्कुल कम निकलने लगता है। यह सभी मासिक धर्म के रुकने के लक्षण होते हैं।



महावारी लाने के उपाय और घरेलू नुस्खे:
महावारी लाने के उपाय घरेलू नुस्खों द्वारा कैसे आप इस समस्या से मुक्ति पा सकते हैं।नीचे कुछ उपचार दिए गए हैं। अगर आप इन्हें आजमाएंगे तो निश्चित रुप से आपको महावारी की समस्या खत्म हो सकती है।

काली मिर्ची और शहद:- लगभग 3 ग्राम काली मिर्ची का चूर्ण शहद के साथ चाटने से कुछ ही समय में रुके हुए मासिक धर्म को चालू कर देता है।

दूब का रस:- रुके हुए मासिक धर्म को चालू करने के लिए आप प्रतिदिन एक छोटा चम्मच दूब का रस पिया करें ऐसा करने से आप की रुकी हुई माहवारी खुल जाती है।

पपीते के द्वारा मासिक धर्म का उपचार:- महावारी चालू करने के लिए आप रोजाना कच्चे पपीते का सेवन कर सकते हैं या फिर पपीते की सब्जी बनाकर भी कुछ दिनों तक खाने से आपका रुक हुआ मासिक धर्म खुलकर आने लगता है।

एलोवेरा से महावारी लाने के उपाय :-दोस्तों एलोवेरा जिसको हम बोलचाल की भाषा में ग्वारपाठा भी बोलते हैं आप लगभग 2 सप्ताह तक ग्वारपाठे के रस का दो चम्मच प्रतिदिन भूखे पेट सेवन करने से आपकी अनियमित महावारी सही हो जाती है, और खुलकर आने लगती है।

काली मिर्च, शक्कर और पीपल:- लगभग 10 ग्राम तिल और 2 ग्राम काली मिर्च और दो छोटे पीपल इन तीनों को थोड़ी शक्कर लेकर मिला लें और इनका उबालकर अच्छी तरह काढ़ा बना ले और ठंडा हो जाने पर इसको पिएं, इस तरह का काढ़ा पीने पर आपको मासिक धर्म खुलकर आने लगता है या महावारी से संबंधित कोई समस्या होती है तो वह भी ठीक हो जाती है।



देसी घरेलू नुस्खे द्वारा महावारी लाने के उपाय :- रुके हुए मासिक धर्म को चालू करने के लिए यहां जो देसी घरेलू नुस्खा बता रहे हैं इसके लिए आपको सोंठ, बायबिडंग, जौ और गुढ़ की जरूरत पड़ेगी। तो सबसे पहले आप 50 ग्राम सोंठ ले लें और 30 ग्राम के लगभग गुढ़ और 5 ग्राम बायविडंग तथा 5 ग्राम जौ इन सबको मिलाकर दरदरा यानी के मोटा सा कूट लें।
और इसमें एक गिलास पानी मिलाकर इसको अच्छे से उबालें। और जब पानी आधा रह जाए तो इस काढ़े का ठंडा होने के बाद सेवन करें। इस दवाई से आप का रूका हुआ मासिक धर्म खुलकर आने लगता है।

Facebook Comments

मामले (भारत)

67152

मरीज ठीक हुए

20917

मौतें

2206

मामले (दुनिया)

3,917,999