लखनऊ: यूपी पॉवर कॉर्पोरेशन राज्य के युवाओं को कौशल विकास से जोड़कर रोजगार के अवसर मुहैया कराएगी।

news hawks 24

रिपोर्ट फराह अंसारी
लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बिजली विभाग ने अब राज्य के युवाओं को कौशल विकास से जोड़कर रोजगार के अवसर मुहैया कराने का फैसला किया है। अधिकारियों का दावा है कि पॉवर कार्पोरेशन अब गांवों में न केवल बिजली पहुंचाएगा बल्कि युवाओं को रोजगार से भी जोड़ेगा।




अधिकारियों की माने तो आईटीआई और पॉलीटेक्निक डिप्लोमा वाले युवाओं को ट्रेनिंग और रोजगार के अवसर भी मिल सकेंगे। यूपी पावर कार्पोरेशन जल्द ही इस तरह की योजना को लागू करेगा।

प्रदेश में बिजली उपभोक्ताओं की संख्या तेजी से बढ़ रही है। गांव-कस्बों में भी उपभोक्ताओं को कनेक्शन बड़े पैमाने पर दिया जा रहा है। मार्च 2019 तक करीब 1.5 करोड़ नए बिजली उपभोक्ता बढ़ जाएंगे। वर्तमान में 2.30 करोड़ उपभोक्ता पहले से ही हैं।

विभाग के सूत्रों का दावा है कि यूपी पावर कॉर्पोरशन के कनेक्शन देने के बाद इन क्षेत्रों में फाल्ट ठीक करने, बिलिंग करने और बिल वसूली करने जैसे कामों के लिए अपना नया नेटवर्क तैयार करने में जुटा है। इसके लिए स्थानीय युवाओं को ही नौकरी या रोजगार के अवसर देने की पहल की जा रही है।

इन युवाओं को भर्ती से पहले विशेष तरीके की ट्रेनिंग दी जाएगी। वहीं पढ़े लिखे युवाओं को ट्रेनिंग देकर बिलिंग केंद्र या बिल वसूली में लगाया जाएगा। इनके लिए निजी कंपनियों का सहयोग लिया जाएगा। कंपनियों के जरिए ही युवाओं को ट्रेनिंग भी कराई जाएगी।



इस संबंध में ऊर्जा विभाग के प्रमुख सचिव आलोक कुमार ने बताया कि पावर कार्पोरेशन योग्य लोगों की सेवाएं लेने के लिए विभिन्न स्तरों पर काम कर रहा है। सीधी भर्ती, आउटसोर्सिंग और संविदा के जरिए योग्य कर्मचारियों को लिया जा रहा है।

Please follow and like us: