लखनऊ:बीसीसीआई के चेयरमैन राजीव शुक्ला के निजी स्टाफ पर भ्रष्टाचार का आरोप।

लखनऊ:बीसीसीआई के चेयरमैन राजीव शुक्ला के निजी स्टाफ पर भ्रष्टाचार का आरोप।

फराह अंसारी
लखनऊ:आईपीएल और यूपी बोर्ड के अध्यक्ष राजीव शुक्ला के निजी स्टाफ के एक सदस्य पर भ्रष्टाचार का बड़ा आरोप लगा है। स्टिंग ऑपरेशन के दौरान ये पता लगा है कि राजीव शुक्ला के एक निजी स्टाफ ने खिलाड़ियों के चयन के लिए रिश्वत की मांग की है।



उत्तर प्रदेश राजीव शुक्ला के कार्यकारी सहायक अकरम सैफी और क्रिकेटर राहुल शर्मा की कथित बातचीत का प्रसारण किया था जिसमें सैफी राज्य टीम में राहुल के चयन को सुनिश्चित करने के लिए ‘‘ नगदी और दूसरी चीजों’’ की मांग कर रहा है।

इस प्रकरण के बाद बीसीसीआई की एंटी करप्शन यूनिट ने इसकी जांच करने का फैसला किया है। शुक्ला फिलहाल उत्तर प्रदेश क्रिकेट संघ के सचिव भी हैं।

बीसीसीआई के एसीयू प्रमुख अजीत सिंह ने कहा, हमने इस स्टिंग से जुड़े सारे मामले की जांच करेंगे। हम चैनल से ऑडियो की मांग करेंगे और इससे जुड़े खिलाड़ी से भी बात करेंगे। जब तब हम इससे जुड़े लोगों से बात नहीं कर लेते, कुछ भी कहना मुश्किल है।

शर्मा ने कभी भारतीय या राज्य की टीम का प्रतिनिधित्व नहीं किया है। उन्होंने आरोप लगाया कि राज्य की टीम में शामिल करने के लिए सैफी ने उनसे घूस की मांग की थी। उन्होंने सैफी पर फर्जी जन्म प्रमाण पत्र भी जारी करने का आरोप लगाया सैफी ने सभी आरोपों को खारिज किया है।



Facebook Comments