लखनऊ: गांव से दस एससी और ओबीसी को बीजेपी का ब्रांड एबेंसडर बनाया जायेगा: योगी आदित्यनाथ।

लखनऊ: गांव से दस एससी और ओबीसी को बीजेपी का ब्रांड एबेंसडर बनाया जायेगा: योगी आदित्यनाथ।

रिपोर्ट फराह अंसारी
लखनऊ: यूपी में बीजेपी की तैयारी एससी-ओबीसी के भरोसे चुनाव जीतने की है। पार्टी ने विधायकों को अगले पांच महीनों में एक लाख गांव तक पहुंचने का लक्ष्य दिया है। हर गांव से दस एससी और ओबीसी को बीजेपी का ब्रांड एबेंसडर बनाया जायेगा। ये फ़ैसला योगी आदित्यनाथ के घर पर हुई बीजेपी विधायकों की डिनर पार्टी में हुआ।




बीजेपी के सभी विधायकों की ड्यूटी लगा दी गई है। सितंबर से लेकर अगले साल के जनवरी महीने तक सबको दो सौ पचास गांव का टारगेट दिया गया है। हर विधायक हर महीने कम से कम पचास गांव का दौरा करेगा। गांव जाकर नेता को क्या क्या करना है ? ये भी बताया गया है। गांव से दस एससी और दस ओबीसी के लोगों को तैयार किया जायेगा। ये एक तरह से पार्टी के ब्रांड एबेंसडर होंगे।



गांव में लोकसभा चुनाव के प्रचार से लेकर बूथ तक का मैनेजमेंट इनके ही ज़िम्मे होगा। यूपी में बीजेपी के 312 विधायक है। इसके अलावा विधान परिषद के सदस्य यानी एमएलसी भी हैं। जिन इलाक़ों में बीजेपी के न तो विधायक और न ही एमएलसी हैं। वहीं गांव के दौरे और दलितों-पिछड़ों को जोड़ने का काम सांसद या पार्टी के किसी नेता को दिया गया है। इस फ़ार्मूले से बीजेपी ने अगले पांच महीनों में एक लाख सात सौ पचास गांव तक पहुंचने का कार्यक्रम तय किया है।

Facebook Comments

मामले (भारत)

67152

मरीज ठीक हुए

20917

मौतें

2206

मामले (दुनिया)

3,917,999