कैराना उपचुनावः देवर ने दिया भाभी को समर्थन, BJP की बढ़ी मुसीबत

कैराना उपचुनाव 2018 में भाजपा को झटका

सहारनपुर से माजिद कुरैशी की रिपोर्ट
कैराना
उत्तर प्रदेश के कैराना लोकसभा उपचुनाव में नया सियासी ट्विस्ट देखने को मिल रहा है। निर्दलीय प्रत्याशी कंवर हसन ने राष्ट्रीय लोकदल (आरएलडी) को समर्थन दे दिया है। आरएलडी प्रत्याशी तबस्सुम के विपक्ष में उनके देवर कंवर हसन निर्दलीय चुनाव लड़ रहे थे। कांग्रेस नेता इमरान मसूद कई दिनों से कंवर हसन को समर्थन के लिए मनाने में लगे थे। इससे यह लगभग साफ हो गया है कि अब कैराना में महागठबंधन बनाम बीजेपी की सियासी लड़ाई होगी।

कैराना में एक तरफ जहां *बीजेपी चुनाव* लड़ रही है वहीं दूसरी तरफ *कांग्रेस, बीएसपी, एसपी और आरएलडी ने प्रत्याशी तबस्सुम हसन* का समर्थन किया है। आपको बता दें कि एसपी ने कैराना में राष्ट्रीय लोकदल (आरजेडी) से गठबंधन किया है। यहां तबस्सुम समाजवादी पार्टी की प्रत्याशी हैं लेकिन वह आरएलडी के चुनाव चिह्न से चुनाव लड़ रही हैं। *बीजेपी ने कैराना में दिवंगत सांसद हुकुम सिंह की बेटी मृगांका सिंह को मैदान में उतारा* है। कैराना लोकसभा सीट और नूरपुर विधानसभा सीट पर 28 मई को वोटिंग होगी और मतगणना के लिए 31 मई की तारीख तय की गई है।

कैराना उपचुनाव अब भाजपा के लिए नाक का चुनाव हो गया है। इस चुनाव को जीतने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार व केंद्र सरकार ने एड़ी चोटी का जोर।लगाया हुआ है। यहां तक कि खुद सी एम योगी ,डिप्टी सीएम केशव प्रसाद,ओर ख़ुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनाव की कमान संभाले हुए है।

सोशल मीडिया पर भाजपा प्रत्याशी और रालोद प्रत्याशी के हुए एक सर्वे पर रालोद की तबस्सुम हसन के फेवर में जायदा माहोल बन रहा है इससे अनुमान लगाया जा सकता है की भाजपा को काफी मुशक्कत करनी होगी यह आंकड़े पेट्रोल की कीमत बढने के बाद जायदा तेजी से सोशल मीडिया पर उभर कर सामने आ रहे है ‘

Facebook Comments