news hawks 24

कानपुर: 11वीं क्लास के छात्र की लाठी डंडे से पीट-पीट कर हत्या।

रिपोर्ट फराह अंसारी
कानपुर: कानपुर में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है जहां 11वीं क्लास के छात्र की बाइक सवार युवकों ने लाठी डंडे से पीट-पीट कर हत्या कर दी। ये घटना उस वक्त हुई जब छात्र कोचिंग पढ़ कर लौट रहा था। कोचिंग से बहार निकलते ही बाहर घात लगाए बैठे युवकों ने छात्र को घेर कर डंडो से पीटना शुरू कर दिया। छात्र को दबंगों ने पीट-पीट कर अधमरा कर दिया और भाग गए. स्थानीय लोगों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने गंभीर रूप से घायल को हैलट अस्पताल भेजा जहां डॉक्टरों ने छात्र को मृत घोषित कर दिया।




छात्र की मौत की सूचना जब परिजनों को मिली तो कोहराम मच गया। इस हत्या के पीछे प्रेम प्रसंग का मामला सामने आया है। छात्र के मोहल्ले के लोग हजारों की संख्या में इकठ्ठा हो गए और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। बवाल बढ़ता देख अधिकारियों ने वहां फ़ोर्स तैनात कर दी। स्थानीय लोगों ने चौकी और थाने का भी घेराव किया।

बगाही बाबुपुरवा निवासी लाखन सिंह पाल डीजे साउंड सर्विस का काम करते हैं। परिवार में पत्नी सुनीता बड़ा बेटा अमितेश और छोटे बेटे अंकित के साथ रहते हैं। अंकित पाल राजरानी इंटर कॉलेज में 11वीं क्लास का छात्र था। बुधवार को अंकित किदवाई नगर थाना क्षेत्र स्थित डी ब्लाक में केमिस्ट्री की कोचिंग पढ़ने गया था। कोचिंग के बाहर बाइक सवार दबंग युवक पहले से ही घात लगाकर बैठे थे। जैसे छुट्टी के बाद अंकित कोचिंग से बाहर निकला और आगे बढ़ा दबंगों ने उसे पीटना शुरू कर दिया।

प्रत्यक्षदर्शी महेंद्र के मुताबिक लगभग एक दर्जन युवक किसी लड़के को बहुत बुरी तरह पीट रहे थे। उन्होंने कहा कुछ लोगों के हाथ में डंडे भी थे, जो लड़का मार खा रहा था उसके चीखने की और लाठी डंडे के अलावा कोई आवाज नहीं आ रही थी। चीखने की आवाज सुनकर जब स्थानीय लोग घरों के बाहर निकले तो युवक भागने लगे। लगभग 5 बाइक थी जिसमें हर एक बाइक में तीन या दो लड़के बैठे थे।

मृतक अंकित के दोस्तों का कहना है कि अंकित को पीटने के लिए रजत,राजू सिंह, अभय और वैभव आये थे। यह सभी बगही के रहने वाले हैं लेकिन किस बात को लेकर झगड़ा हुआ है इसकी जानकारी हम लोगों को नहीं है। उन्होंने बताया अंकित किसी लड़की से बात करता था वो लड़की कौन है यह नहीं पता।



बाबु पुरवा सीओ अजीत कुमार रजत के मुताबिक कुछ लड़कों ने एक छात्र को कोचिंग के बाहर पीटा था। छात्र को इलाज के लिए हैलट अस्पताल भेजा गया था जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया है। छात्र के शव को मॉर्चरी में रखवा दिया गया है। इस घटना के पीछे कौन लोग थे उनकी पहचान की जा रही है। इसके साथ ही मृतक के परिजन जो भी तहरीर देंगे उसी आधार पर कार्रवाई की जाएगी। परिजनों और स्थानीय लोगों को समझा कर शांत करा दिया गया है।

Facebook Comments

मामले (भारत)

67152

मरीज ठीक हुए

20917

मौतें

2206

मामले (दुनिया)

3,917,999