जापान में मंगलवार को सबसे भीषण शक्तिशाली तूफान आया, कई लोग घायल।

रिपोर्ट फराह अंसारी
जापान में मंगलवार को पिछले 25 साल का सबसे शक्तिशाली तूफान आया। देश में तेज हवाओं और भारी बारिश के कारण अभी तक 8 लोगों की मौत हो गई है, जबकि कई अन्य घायल हुए हैं।




तेज हवाओं ने मकानों की छतों को उड़ा दिया, पुलों पर खड़े ट्रक पलट गए और ओसाका खाड़ी में खड़े टैंकर जहाज को भी वह अपने साथ उड़ा ले गईं। टैंकर के एक पुल से टकराने और पुल को पहुंची क्षति के कारण कंसाई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा मुख्य द्वीप से कट गया। इस कारण करीब 3,000 लोग फंस गए हैं. 800 उड़ानों को रद्द कर दिया गया है।

हवाई अड्डे के अधिकारियों का कहना है कि वह पुल को पहुंची क्षति का आंकलन कर रहे हैं, हालांकि उन्होंने यह नहीं बताया कि यात्री कब अपने गंतव्य पर रवाना हो सकते हैं।



तेज हवाओं और ऊंची लहरों के कारण हवाई अड्डे पर पानी भर गया और कई उड़ानें रद्द करनी पड़ीं। पश्चिमी जापान में दोपहर में 216 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चक्रवाती तूफान जेबी आया। यह इलाका इस साल गर्मी में हुई भयावह बारिश से अभी उबर ही रहा है। प्रधानमंत्री शिन्जो आबे ने लोगों से जल्द से जल्द जगह खाली करने की अपील की और अपनी सरकार से निवासियों को बचाने के लिए सभी आवश्यक उपाय करने का निर्देश दिया।

Facebook Comments

मामले (भारत)

67152

मरीज ठीक हुए

20917

मौतें

2206

मामले (दुनिया)

3,917,999