ग्रेटर नोएडा: कांवड़ियों के दो पक्षों में शिवरात्रि के दिन भंडारा करने और चंदा इक्कठा करने को लेकर हुई खूनी जंग।

ग्रेटर नोएडा: कांवड़ियों के दो पक्षों में शिवरात्रि के दिन भंडारा करने और चंदा इक्कठा करने को लेकर हुई खूनी जंग।

रिपोर्ट फराह अंसारी
ग्रेटर नोएडा के पचायतन गांव में कांवड़ियों के दो पक्षों में शिवरात्रि के दिन भंडारा करने और चंदा इक्कठा करने को लेकर खूनी संघर्ष हो गया। दोनों ओर से जमकर लाठी डंडे चले और पथराव हुआ। इस झगड़े में दोनों तरफ से लगभग एक दर्जन से अधिक लोग घायल हुए है। जिन्हें पास के निजी और नोएडा के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है।



कांवड़ की जगह हाथों में रायफल, लाठी, तलवार लिए कुछ लोग दूसरे पक्ष को धमकाने लगे। दोनों गुटों में गहमागहमी हो गई और देखते ही देखते दोनों गुट आपस में भिड़ गए। आरोप है एक पक्ष की तरफ से गोलियां भी चलाई गईं। जिससे गांव में अफरा-तफरी का माहौल हो गया।

पचायतन गांव में पहले सभी लोग मिलकर एक टोली के तहत कांवड़ लेने जाते थे। इस बार कांवड़ लाने वालों का दो पक्ष बन गया एक पक्ष ब्रहम सिंह का व दूसरा पक्ष महेंद्र सिंह का। कांवड़ लेने के लिए निकलने से पहले एक पक्ष के लोग गांव के मंदिर पर पूजा कर रहे थे और शिवरात्रि के दिन आयोजित होने वाले भंडारे के लिए चंदा इकट्ठा कर रहे थे। आरोप है कि इसी दौरान दूसरे पक्ष के लोग आ गए और मारपीट शुरू हो गई।



पुलिस के मुताबिक मामला दो पक्षों में शिवरात्रि के दिन भंडारा करने को लेकर हुआ। एक पक्ष ने भंडारा करने से मना कर दिया था और दूसरे ने भंडारा करने के लिए चंदा जुटाना शुरू कर दिया था। आरोप है कि इसी दौरान दूसरे पक्ष के लोग आ गए और मारपीट शुरू हो गई। एसपी ग्रेटर नोएडा का कहना है की मामले की जांच की जा रही है और दोनों पक्षों के दो दर्जन से अधिक लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की गई है।

Facebook Comments

मामले (भारत)

67152

मरीज ठीक हुए

20917

मौतें

2206

मामले (दुनिया)

3,917,999