Gorakhpur: Youth killed on the basis of suspected murder of priest.

गोरखपुर: पुजारी की हत्या के शक के आधार पर युवक को मार डाला।

रिपोर्ट फराह अंसारी
गोरखपुर: गोरखपुर मण्डल के देवरिया जिले में सोमवार को एक मंदिर के पुजारी की हत्या का संदेह होने पर उसके परिजन ने एक युवक को धारदार हथियार से ताबड़तोड़ प्रहार करके मार डाला। देवरिया के सकरापुर गांव स्थित एक शिव मंदिर के पुजारी मोती यादव का शव सोमवार सुबह एक तालाब के पास पाया गया।



शव पर चोट के कई निशान पाये गये। यादव के परिजन ने मंदिर की रखवाली करने वाले पिंटू नामक युवक पर शक जाहिर करते हुए मंदिर से करीब 300 मीटर की दूरी पर उसकी धारदार हथियार से प्रहार करके हत्या कर दी।

पुलिस अधीक्षक एन. कोलांची ने बताया कि पिंटू मानसिक रूप से बीमार था और वह पिछले चार-पांच दिनों के दौरान कई लोगों से मारपीट कर चुका था। उसने मोती यादव की हत्या की और बदले में उसका भी कत्ल कर दिया गया।




उन्होंने बताया कि पिंटू की हत्या के मामले में सुनील यादव नामक व्यक्ति को हिरासत में लेकर की गयी पूछताछ में मोती यादव के भाई गंगा यादव, बेटों चंदन, सूरज और दामाद राम यादव के नाम सामने आये हैं। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। दोनों शव पोस्टमार्टम के लिये भेजे गये हैं। मामले की जांच की जा रही है।

Facebook Comments

मामले (भारत)

67152

मरीज ठीक हुए

20917

मौतें

2206

मामले (दुनिया)

3,917,999