जर्मनी: चर्च के पादरी पर नन के लगाए रेप के सनसनीखेज आरोप।

news hawks 24

रिपोर्ट फराह अंसारी
बर्लिन: दुनियाभर में चर्चों में यौन उत्पीड़न के मामले थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। केरल के एक चर्च के पादरी पर नन के लगाए रेप के सनसनीखेज आरोपों के बाद जर्मनी में एक कैथोलिक चर्च के अंदर यौन उत्पीड़न पर एक रिपोर्ट ने सबको हिलाकर रख दिया है। साल 1946 से 2014 के बीच इस चर्च से इस तरह के 3,677 मामलों का ब्योरा दिया गया है। जर्मनी के दो मीडिया संस्थानों ने बुधवार को यह दावा किया।



स्पीजेल ऑनलाइन और डाई जेत ने कहा है कि आधे से अधिक पीड़ित 13 साल से या इससे कम उम्र के हैं और इनमें ज्यादातर लड़के हैं। दोनों साप्ताहिक ने बताया है कि हर छठा मामला बलात्कार का है और कम से कम 1670 धर्मगुरू इसमें शमिल थे।

दुनियाभर में हो रही ऐसी घटनाओं के बीच भारत के केरल की एक नन से रेप का मुद्दा गर्म है। ननों ने रेप का आरोप झेल रहे जालंधर के बिशप जेम्स फ्रैंको मुलक्कल के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। ये मामला भी वेटिकन सिटी तक पहुंच चुका है। बिशप फ्रैंको पर यौन शोषण का आरोप लगाने नन ने भारत के अपोस्टोलिक नुनेशिया गिय्मबटिस्टा डिक्वाट्रो को पोप के नाम चिट्ठी लिखी है। पोप के राजदूत नुनेशिया को लिखी चिट्ठी में नन ने अपनी तकलीफों का जिक्र करते हुए न्याय मांगा है।




पोप फ्रांसिस ने दुनियाभर के सभी बिशप्स के अध्यक्षों को अगले साल फरवरी में होने वाले सम्मेलन में तलब किया है। इस सम्मेलन में पादरियों के यौन दुर्व्यवहार और बच्चों की सुरक्षा पर चर्चा होगी। पोप के इस कदम को लेकर कहा जा रहा है कि उन्हें यह महसूस हुआ है कि यह अनैतिक आचरण वैश्विक स्तर पर हो रहा है और अगर इस पर कार्रवाई नहीं की गई तो यह उनकी विरासत को धक्का लग सकता है।

Facebook Comments

One thought on “जर्मनी: चर्च के पादरी पर नन के लगाए रेप के सनसनीखेज आरोप।”

Comments are closed.