बजट 2018: ट्रेड यूनियन ने 5 लाख रुपये तक की आय को टैक्स फ्री करने की मांग की..

नई दिल्ली : बजट 2018 आने से पहले सेंट्रल ट्रेड यूनियन (केंद्रीय श्रमिक संगठनों) ने सोमवार को अरुण जेटली से मुलाकात कर पांच लाख रुपये तक की आय को करमुक्त करने की मांग की। इसके अलावा ट्रेड यूनियन ने संगठनों ने कामगारों के लिए 18 हजार न्यूनतम मासिक वेतन और न्यूनतम 3 हजार मासिक पेंशन की भी वकालत की।

भारतीय मजदूर संघ और हिंद मजदूर सभा समेत अन्य श्रमिक संगठनों के प्रतिनिधियों ने एक घंटे से अधिक चली बैठक में वित्तमंत्री अरुण जेटली के सामने 12 सूत्रीय मांगपत्र प्रस्तुत किया। बैठक के बाद हिंद मजदूर सभा के महासचिव हरभजन सिंह सिद्धू ने बैठक के बाद संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि हमने बजट में 5 लाख रुपये तक की आय को कर दायरे से बाहर करने, न्यूनतम 18 हजार रुपये मासिक वेतन और और न्यूनतम 3 हजार मासिक पेंशन की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WordPress spam blocked by CleanTalk.